Tuesday, July 17, 2007

प्रियतमा
ढाई अक्षर प्यार के
कर देते हैं लोगों को पागल
तुम और हम तो हो गए
एक दूजे के कायल

No comments: